परम पूज्य गुरुसत्ता के विचारो से ओतप्रोत हुई 190 से अधिक देशो की प्रतिभाएं

लंदन : वैश्विक मंच पर “One Young World” नामक संस्थान द्वारा लगभग 190 देशो से चुनिंदा 2000 से अधिक युवा प्रतिभाओ को एकत्रित कर एक समायोजन दिनांक २२ से २५ के मध्य, लंदन में आयोजित किया गया, जिसमे विश्व की सिरमौर नेतृत्व को मार्गदर्शन हेतु आमंत्रित किया गया। भारत की पावन भूमि का प्रतिनिधित्व करते हुए दे० सं० वि० वि० के प्रति कुलपति डॉ. चिन्मय पंड्या जी ने इन चुनिंदा प्रतिभाओ के समक्ष परम पूज्य गुरुसत्ता के भावपूर्ण विचार मानव मात्र एक समान” विषय के द्वारा प्रस्तुत किये। गुरुसत्ता के विचारो से न केवल उपस्थित प्रतिभागियों के ह्रदय झंकृत हुए अपितु समायोजन में मंचासीन वक्ताओं को भी प्रभावित किया। इस समायोजन में युवा प्रतिभाओं को सम्बोधित करने विविध सम्प्रदायों और धर्मपंथो के प्रतिनिधि उपस्थित रहे। इसमें भाग लेने हेतु ५०,००० से अधिक आवेदन आये थे लेकिन केवल चुने हुए २००० प्रतिभागियों को स्थान प्राप्त हुआ जो *गुरुसत्ता के विचारो का पान कर सके।

You may also like...