An Inspirable Effort by Yuva Team-Lakhimpur

डिस्पोज़ल बर्तन हटाओ !
अन्य विकल्प अपनाओ !
पर्यावरण बचाओ !

लखीमपुर: युवा प्रकोष्ठ द्वारा जिले के खुर्रमनगर गाँव में पाँच दिवसीय पञ्च कुण्डीय गायत्री महायज्ञ आयोजन में एक भी डिस्पोज़ल बर्तन प्रयोग न करने का संकल्प लिया है। इसके लिए स्टील के थाली और गिलास खरीद लिए गए हैं औए प्रत्येक परिजन के लिए शांन्तिकुंज भोजनालय की तर्ज पर बर्तन प्रयोग करके स्वयं धुलकर रखने का नियम बनाया गया है जो बड़ी ही ख़ुशी से सभी प्लान कर रहे हैं।

कल कलशयात्रा में जब भारी संख्या में भीड़ थी तब स्वयंसेवकों ने गिलास धुलने की सेवा का बीड़ा उठाया, सोचा जा है था कि इतनी बड़ी संख्या में शरबत पिलाना बिना डिस्पोज़ल गिलास के कैसे सम्भव होगा ! किन्तु गुरूजी का नाम लेकर शुरुआत हुई और बिना डिस्पोज़ल गिलास के प्रयोग के सारा शर्बत वितरित किया गया। स्वच्छता अभियान के इस स्वरूप से अंतः में संतोष भाव उपजा है, क्योंकि गंदगी की सफ़ाई करने की अपेक्षा गंदगी/प्रदूषण की जड़ या उसके कारण पर प्रहार करना कहीं अधिक सार्थक और श्रेयस्कर है। और पृथ्वी माँ को प्रदूषण से बचाना ही सच्चे अर्थों में पृथ्वी पूजन है।
बड़े मंगल सरीखे आयोजनों पर लोगों को शरबत पिलाकर पुण्य पाने की बात सोचने वाले करोड़ों डिस्पोज़ल गिलास/थालियों का प्रदूषण फैलाने वाले श्रद्धालुओं को भी अन्य विकल्पों के प्रयोग पर विचार करना होगा।
जय स्वच्छता अभियान
😊😊😊😊😊😊😊😊
युवा प्रकोष्ठ, लखीमपुर-खीरी

You may also like...